Macrotech Builders IPO to open tomorrow, know worth band and lot measurement | कल खुलेगा Macrotech Builders का IPO, जानिए प्राइस बैंड, लॉट साइज से लेकर सबकुछ


मुंबई: Macrotech Builders IPO: भारत की दिग्गज रियल एस्टेट कंपनियों में शुमार मैक्रोटेक डेवलपर्स लिमिटेड (Macrotech Builders) का IPO कल यानी 7 अप्रैल को खुल रहा है. कंपनी इस IPO के जरिए 2500 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है. यह IPO सब्सक्रिप्शन के लिए 9 अप्रैल तक खुला रहेगा. 

Macrotech Dev के IPO का प्राइस बैंड 

Macrotech Builders यानी पूर्व की Lodha Builders ने इस IPO के लिए इश्यू प्राइस बैंड 483-486 रुपये तय किया है. इसका लॉट साइज 30 शेयर का है. यानी आपको कम से कम 14580 रुपये लगाने होंगे. अधिकतम 13 लॉट के लिए बोली लगाई जा सकती है. 

ये भी पढ़ें- 7th Pay Commission: नाइट ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, अलाउंस के नियमों में हुआ बड़ा बदलाव!

22 अप्रैल को होगी लिस्टिंग 

इस IPO में 50 परसेंट शेयर क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIBs) के लिए आरक्षित होंगे. नॉन-इंस्टीट्यूशनल बायर्स के लिए 15 परसेंट और रिटेल इंवेस्टर्स के लिए 35 परसेंट शेयर रिजर्व होंगे. 30 करोड़ रुपये के शेयर कंपनी के कर्मचारियों के लिए पहले से रिजर्व हैं.
IPO का शेयर अलॉटमेंट 16 अप्रैल को फाइनल हो जाएगा. असफल होने पर 19 अप्रैल तक रिफंड जारी हो जाएंगे. जिन्हें IPO मिलेगा उनके अकाउंट में 20 अप्रैल को शेयर आ जाएंगे. 22 अप्रैल को शेयर की लिस्टिंग मार्केट में होगी. 

IPO लाने की तीसरी कोशिश

लोढ़ा ग्रुप की IPO लाने की ये तीसरी कोशिश है. इसके पहले कंपनी साल 2009 और 2018 में IPO लाने की कोशिश की थी, लेकिन खराब मार्केट सेंटीमेंट की वजह से कंपनी ने कदम वापस खींच लिए थे. अब घरों की बिक्री में आए उछाल और निवेशकों के सुधरते सेंटीमेंट को देखते हुए अपना IPO ला रहा है. 

Macrotech Builders को जानिए

Macrotech Builders या लोढ़ा ग्रुप को मुंबई में ट्रंप टॉवर्स (Trump Towers) और लंदन में ग्रोसेवनर स्कॉयर (Grosvenor Sq.) जैसे लग्जरी प्रोजेक्टस के लिए जाना जाता है. इस IPO के जरिए जो पैसे उसमें से 1500 करोड़ रुपये कंपनी अपना कर्ज घटाने में खर्च करेगी. 375 करोड़ रुपये जमीन खरीदने और बाकी खर्चों के लिए हैं. अभिषेक मंगल प्रभात लोढ़ा, राजेंद्र नरपतमल लोढ़ा, संभवनाथ इंफ्राबिल्ड और संभवनाथ ट्रस्ट इस कंपनी के प्रमोटर्स हैं. कंपनी में प्रोमोटर्स की हिस्सेदारी 100 परसेंट है यानी इनके पास कंपनी के 39,58,78,000 फुल्ली पेड इक्विटी शेयर हैं. 

ये भी पढ़ें- UP में किरायेदारों-मकान मालिकों के लिए जारी हुए नए नियम, सिर्फ 5 परसेंट ही बढ़ा सकेंगे किराया

LIVE TV





Source link